राष्ट्रभाषा और राजभाषा,‌Official Language and National Language,Current Affairs,GK Questions Answer,GK Website,General Knowledge-atmword.com

‌‌‌‌Official Language and National Language
‌‌‌‌‌‌‌‌राष्ट्रभाषा और राजभाषा

राजभाषा का तात्पर्य है-संविधान द्धारा सरकारी काम-काज प्रशासन संसद और विधानमडंलों और न्यायिक कार्यकलापों के लिए स्वीकृत भाषा।
दूसरी ओर राष्ट्रभाषा का तात्पर्य है- आम लोगों द्धारा दैनिक जीवन में आम बोलचाल में प्रयोग की जाने वाली भाषा।
राष्ट्रभाषा एवं राजभाषा में अतंर
राष्ट्रभाषा- जनसाधारण द्धारा प्रयुक्त साधारण भाषा।
राजभाषा- कार्यलयी काम-काज में प्रयुक्त भाषा।
राष्ट्रभाषा- इसका शब्द भडांर अनौपचारिक अपरिभाषिक और अनिश्चित होता है।
राजभाषा- इसका शब्द भडांर औपचारिक परिभाषिक तथा निश्चयात्मक होता है।
राष्ट्रभाषा-यह देश के सांस्कृतिक जीवन की प्रतिनिधि होती हैं। परम्पराओं त्योहारों मेलों बाजारों में इसी का प्रयोग होता है।
राजभाषा-यह सांस्कृतिेक जीवन का प्रतिनिधित्व नही करती।
राष्ट्रभाषा-साहित्यिक अथवा काव्य भाषा के रूप में इसका प्रयोग होता है।
राजभाषा-यह काव्य भाषा या साहित्यिक भाषा के रूप में प्रयुक्त नहीं होती है।
राष्ट्रभाषा- इसमें आत्मनिष्ठता होती है।
राजभाषा-इसमें वस्तुनिष्ठता होती है।
राष्ट्रभाषा-राष्ट्रभाषा सदैव स्वदेशी होती है।
राजभाषा-यह विदेशी भी हो सकती है।
राष्ट्रभाषा-यह स्वाभाविक रूप से परिवर्तित होती हैं
राजभाषा-यह कुछ विशेष प्रावधानों के अंर्तगत परिवर्तित की जा सकती है।